दुनिया में हर देश की अपनी एक खासियत है. कोई देश अपनी खूबसूरती के लिये विश्वभर में मशहूर होता है, तो कोई देश अपनी संस्कृति के लिये. मगर क्या आपने उन देशों के बारे में पढ़ा है, जो अपने कठोर कानून के लिये पूरी दुनिया में जाने जाते हैं?

अपने देश के नागरिकों के बीच कानून-व्यवस्था को सही रखने के लिये यह देश किसी भी बात से समझौता नहीं करते. इन देशों के कानून इतने कठोर हैं कि जाने-अनजाने में गुनाह करने के बाद माफी की कोई गुंजाइश नहीं रहती. गुनाह करने के बाद सिर्फ इंसान को पछतावा रहता है और बदले में उसे दर्दनाक सजा मिलती है.

तो आईये कठोर कानून वाले दुनिया के कुछ देशों को जानने की कोशिश करते हैं–

नॉर्थ कोरिया

यूं तो आप नॉर्थ कोरिया को वहां के तानाशाह किम जोंग उन के कारण जानते होंगे. किन्तु, किम के अलावा यद देश अपने कठोर कानून के कारण भी जाना जाता है. आपको जानकर हैरानी होगी की विश्व में नॉर्थ कोरिया पूर्ण रूप से एक कम्युनिस्ट देश है.

इस देश में कानून और व्यवस्था काफी कड़ी है. यहां रहने वाले हर नागरिक की पल-पल की गतिविधियों को ट्रैक किया जाता है. यहां तक कि यहां के लोगों को इंटरनेट जैसी बुनियादी जरूरत से भी दूर रखा गया है. इंटरनेट के इस्तेमाल की इजाज़त सिर्फ सत्तारुढ़ पार्टी को ही दी जाती है, हालांकि उनकी गतिविधियों पर भी पैनी नज़र रखी जाती है.

उत्तर कोरिया सरकार के खिलाफ बोलने का मतलब है अपनी मौत को दावत देना!

यहां मीडिया के बोलने की आज़ादी पर पूरी तरह से बैन है. टीवी, रेडियो और प्रिंट मीडिया सरकार के खिलाफ कोई भी न्यूज़ नहीं दिखा सकते. समाचार और प्रसारण सामग्री पूरी तरह से सेंसर होती है.

संयुक्त राज्य अमेरिका और दक्षिण कोरिया के पर्यटकों को यहां आने की इजाज़त नहीं है. यहां घूमने के लिये अन्य देशों से आने वाले पर्यटकों को स्पेशल एस्कॉट्स की टीम के साथ रहना पड़ता है. वे पर्यटकों के साथ हर जगह जाते हैं और पर्यटक के हर मूवमेंट पर नज़र रखते हैं, ताकि विदेशी पर्यटक किसी कानून को तोड़ न पायें.

यहां शादी से पहले प्रेमी जोड़े के लिये सेक्स करने की मनाही है. नॉर्थ कोरियन सरकार द्वारा ‘डेटिंग पुलिस‘ का गठन किया गया है, जो प्रेमी जोड़ों पर कड़ी नज़र रखती है.

North Korea Is One The Most Strict Law Country (Pic: cnn)

ईरान

यह देश भी अपने सख्त कानून के लिये दुनिया भर में जाना जाता है. इस देश में शरिया कानून चलता है. यहां अगर लड़का-लड़की पब्लिक प्लेस में आपत्तिजनक हालत में पकड़े जाते हैं, तो दोनों की गर्दन के नीचे के हिस्से को ज़मीन में दफना दिया जाता है. फिर पब्लिक द्वारा कुछ मिनट तक उनके चेहरे पर पत्थर बरसाये जाते हैं.

अगर इस दौरान उनकी मौत हो जाती है, तो ठीक है नहीं तो दोनों को ज़मीन से निकालकर जेल की सज़ा सुनाई जाती है. कहा जाता है कि ऐसी खौफनाक सज़ाओं के कारण ईरान में रेप बहुत कम होते हैं.

यहां महिलाओं को घर से बाहर निकलने के समय अपने पूरे शरीर को हिजाब से ढकना जरुरी होता है. ईरान में पुरुष एवं महिलाओं के लिये शराब के सेवन पर पूरी तरह से पाबंदी है. यहां कानून सिर्फ महिलाओं के लिये ही सख्त नहीं है, बल्कि पुरुषों के लिये भी यहां का कानून काफी कड़ा है.

कई बार पुरुषों को रेप करने और मर्डर करने पर फांसी पर भी लटकाया जा चुका है. महिलाओं के साथ पुरुषों को भी घर से निकलते समय पूरे शरीर को ढकने वाले परिधान पहनने पड़ते हैं.

Execution In Iran (Representative Pic: rojwomen)

सऊदी अरब

दुनिया के सबसे कठोर कानून वाले देशों में सऊदी अरब का नाम भी शुमार है. शरिया कानून अपनाने वाला यह मुल्क मुस्लिम समुदाय के सबसे बड़े तीर्थ स्थल के लिये जाना जाता है. यहां के शहर मक्का में हर साल दुनिया भर से करोड़ों मुसलमान हज करने के लिये पहुंचते हैं.

यहां चोरी करना सबसे बड़ा जुर्म माना जाता है!

सऊदी अरब में चोरी करने के बाद अगर चोर पकड़ा जाता है और उस पर जुर्म साबित हो जाता है, तो उसके दोनों हाथ काट दिये जाते हैं. कहा जाता है कि चोरी के खिलाफ सख्त कानून होने के कारण वहां दुकानदार कहीं जाने पर अपनी दुकानों पर ताले नहीं लगाते.

वहीं पब्लिक प्लेस में आपत्तिजनक हालत में पकड़े जाने पर प्रेमी-जोड़ों के शरीर पर कोड़े बरसाये जाते हैं.

सऊदी अरब में पोर्नोग्राफी पूरी तरह से बैन है. सऊदी अरब में पोर्क का मीट और ड्रग्स के इस्तेमाल पर भी वहां की सरकार सख्त है.

A Death Punishment In Saudi Arabia (Representative Pic: independent)

चाईना

भारत का पड़ोसी मुल्क चीन भी अपने सख्त कानून के लिये सुर्खियों में रहता है. चीन में भी कम्युनिस्ट पार्टी सत्ता में है. यहां मीडिया को बोलने की आज़ादी नहीं है. सरकार द्वारा इंटरनेट पर पूरा कंट्रोल रखा जाता है. चीन का कोई भी नागरिक सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ कुछ बोल और लिख नहीं सकता.

चीन अपने चाइल्ड पॉलिसी कानून के लिये विश्वभर में विख्यात है. यहां दंपत्ति दो से अधिक बच्चे पैदा नहीं कर सकते. हालांकि, 1980 से साल 2013 तक चीनी दंपत्तियों को सिर्फ एक बच्चा पैदा करने की ही इजाज़त थी.

चीन में कोई भी समुदाय अपने धर्म का अनुसरण नहीं कर सकता.

वहां धार्मिक आयोजन आयोजित करने के लिये कम्युनिस्ट सरकार जल्द इजाज़त नहीं देती. चाईना में छोटे स्कूली बच्चों को रास्ते में गुज़रने वाली कारों को सेल्यूट करना ज़रुरी होता है.

इस कानून का मकसद छोटे बच्चों में ट्रैफिक रुल का कड़ाई से पालन सिखाना है.

A Prison In China (Pic: aljazeera)

सिंगापुर

यह देश अपनी खूबसूरती के लिये जाना जाता है. हर साल दुनिया भर से करोड़ों लोग सिंगापुर की खूबसूरती निहारने के लिये वहां जाते हैं. अपनी खूबसूरती और सफाई के लिये पहचाने जाने वाला यह मुल्क दुनिया के सबसे कठोर कानून वाले देशों में गिना जाता है.

यहां ड्रग्स बेचने वाले और खरीदने वाले को गोली मार देने का कानून है.

च्यूइंग गम चबाने पर जेल जाने एवं भारी जुर्माने का प्रवाधान है. इस देश में पर्यटक अपने बैग में च्यूइंग गम रखकर दाखिल नहीं हो सकते. सफाई के मामले में सिंगापुर सरकार काफी सतर्कता बरतती है. यहां की सड़कों पर थूकना गैरकानूनी है. सिंगापुर में टॉयलेट के इस्तेमाल के बाद पानी का फ्लैश नहीं चलाने पर सरकार द्वारा जुर्माना लगाया जाता है. सिंगापुर में लिफ्ट में पेशाब करने पर हज़ारों डॉलर का जुर्माना है.

यहां हर लिफ्ट में यूरीन डिटेक्टर डिवाइस लगी होती है. कोई भी व्यक्ति जब लिफ्ट में पेशाब करता है, तो यह डिवाइस लिफ्ट को बंद कर देती है और इसकी सूचना पुलिस को चली जाती है. पुलिस के आने तक लिफ्ट बंद रहती है. बाद में दोषी को कड़ी सजा काटनी पड़ती है.

इस देश में गंदगी करना सबसे संगीन अपराध माना जाता है और इसकी सजा भी तुरंत दी जाती है. यही सबसे बड़ा कारण है की तमाम देशों में सिंगापुर को सबसे सफाई पसंद मुल्क माना जाता है.

Singapore Have Very Strict Laws For Chewing Gum (Pic: flanagansmiles)

जापान

अपनी सक्षम तकनीक के लिये जापान का डंका दुनिया भर में बजता है. वर्ल्ड वार की कड़वी यादों को भुलाकर इस देश ने अपनी कामयाबी की इबारत लिखी है. यहां भी कड़े कानून का पालन किया जाता है.

जापान के कानून के अनुसार हर जापानी नागरिक को अपने सीनियर को इज्ज़त देना ज़रुरी है. कानून के अनुसार जापान के हर सरकारी और गैर सरकारी दफ्तर में हर कर्मचारी को अपने से उच्च अधिकारी से बदतमीजी या अभ्रद भाषा बोलने पर जेल की हवा खानी पड़ सकती है. यहां विदेशी पर्यटकों को हमेशा अपने पास पासपोर्ट रखना ज़रुरी होता है.

जापान में पुलिस को किसी भी समय किसी की भी तलाशी लेने का अधिकार प्राप्त है. ऐसे में बिना किसी ठोस वजह के पर्यटक बिना पासपोर्ट के घूमते हुये पकड़ा जाता है तो उस पर कानूनी कार्यवाही की जाती है.

Police Arrest In Japan (Pic: ibtimes)

क्यूबा

नॉर्थ कैरिबियन सागर के टापू पर बसा क्यूबा शहर कहने को बहुत खूबसूरत है. चारों तरफ से समुद्र के पानी से घिरे इस देश में काफी कड़े कानून हैं. अभी तक आपने अन्य देशों के नागरिक का दूसरे देश में छुपकर रहना गैरकानूनी सुना होगा, लेकिन क्यूबा में यह कानून उलट है.

क्यूबा में जो कानून सबसे कड़ा है वह यह है कि क्यूबा के अन्य राज्य के लोग क्यूबा की राष्ट्रीय राजधानी हवाना में बगैर सरकार की इजाज़त के नहीं रह सकते. क्यूबा कानून के मुताबिक बिना आंतरिक मंत्रालय से इजाज़त लिये बिना, कोई भी क्यूबियन नागरिक हवाना में स्थाई रुप से नहीं रह सकता.

क्यूबा में टीवी चैनल्स को आम नागरिकों की पहुंच से काफी दूर रखा गया है. यहां आम नागरिक सिर्फ वहां का सरकारी टीवी चैनल ही देख सकता है.

क्यूबा के कानून के तहत वहां का कोई भी नागरिक बाहरी देशों से इलैक्ट्रोनिक उपकरण इम्पोर्ट नहीं कर सकता. ऐसा करने के लिए वहां के नागरिकों को कस्टम डिपार्टमेंट से लिखित में इजाज़त लेनी पड़ती है. वहीं क्यूबा अपने ट्रैफिक नियमों के लिये भी काफी मशहूर है. यहां कोई भी क्यूबन नागरिक किसी भी विदेशी पर्यटक को अपनी गाड़ी में लिफ्ट नहीं दे सकता. ऐसा करने के लिये उसके पास वहां का लाइसेंस होना अनिवार्य है.

यहां के नागरिकों के लिये किसी भी विदेशी पर्यटक को अपने घर में ठहराना गैरकानूनी है. इस कानून को तोड़ने वालों पर सरकार द्वारा कार्रवाई की जाती है.

Cuban Prison (Pic: dailywire)

तो यह थे दुनिया के सबसे कठोर कानून वाले देश जहां कानून तोड़ने वालों पर सरकार कोई रहम नहीं खाती और कड़ी सजा देती है.

आप क्या सोचते हैं ‘भारत’ जैसे देश में भी कोई कड़ा कानून है क्या?

Web Title: Dangerous Countries In the World, Hindi Article

Featured Image Credit: thoughtco