भारत के लोगों के लिए चाय सिर्फ एक ड्रिंक नहीं बल्कि एक एहसास है. भारत के किसी भी कोने में चले जाइए… कहीं न कहीं चाय की एक छोटी सी दुकान दिख ही जाएगी. सिर्फ 10 रूपए खर्च करके भी कई बार ऐसी चाय पीने को मिल जाती है जो दिल खुश कर देती है!

यूँ तो चाय की कीमत महज़ कुछ ही रूपए की होती है लेकिन क्या आप जानते हैं कुछ चाय इतनी खास भी होती हैं जो उम्मीद से भी ज्यादा महँगी होती हैं. दुनिया में ऐसी कई सारी चाय की क्वालिटीज हैं जो हज़ारों-लाखों रूपए में बिकती हैं.

आखिर कौन सी चाय है यह… और क्या है इनमें ऐसा खास–

दा होंग पाओ

चीन में उगाई जाने वाली ‘दा होंग पाओ’ चाय के दाम सुनकर अक्सर लोगों के पैरों तले जमीन खिसक जाती है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि 28,000 डॉलर की लागत में यह बस 20 ग्राम चाय ही आती है. दुनिया की सबसे महँगी चाय में इसका भी नाम शुमार है.

माना जाता है कि इसके दाम के आगे सोना भी फेल है. इसकी कीमत इसलिए इतनी ज्यादा मानी जाती है क्योंकि इसे आज भी सदियों पुराने चीनी तरीकों से उगाया जाता है और यह पूरी तरह प्राकृतिक होती है.

Da Hong Pao (Pic: shopcoffeeandtea)

पीजी टिप्स डायमंड टी

पीजी टिप्स डायमंड टी एक ब्रिटिश चाय कंपनी द्वारा बनाई गई थी. इसे कंपनी की 75वीं वर्षगांठ के लिए खास बनाया गया था. कंपनी कुछ बहुत ही शानदार बनाना चाहती थी जिसके लिए उन्होंने ‘अल्ट्रा लुक्से’ (ultra-luxe) डायमंड चाय को बनाने का फैसला किया.

इसके नाम से ही जाहिर है कि इस चाय की खासियत क्या है. कहते हैं कि इसके हर एक टी बैग में हीरे लगाए गए थे. हीरे लगे एक टी बैग की कीमत लगभग 15,000 डॉलर रखी गई.

यह एक लिमिटेड एडिशन वाली चाय थी… क्योंकि इसे असल में चैरिटी के लिए बनाया गया था. इसके जरिए कंपनी ने पैसे भी इकठ्ठा कर लिए और साथ में अपना नाम भी बना लिया.

PG Tips Diamond (Pic: dabocapradentro)

पांडा डंग टी

पांडा डंग टी क्यों महँगी है… यह जानकर शायद कुछ लोगों को बहुत अजीब लगें. माना जाता है कि यह चाय किसी आम खाद से उगाकर नहीं बनाई जाती बल्कि इसे पांडा के मल द्वारा बनाया जाता है.

कहते हैं कि यह भले ही गंदा लगता हो लेकिन यह तरीका केमिकल वाली दवाईयों से चाय उगाने से ज्यादा अच्छा है. पांडा डंग टी की कीमत शायद इसलिए भी इतनी ज्यादा है. माना जाता है कि इसकी कीमत 35,000 डॉलर है… वह भी बस 500 ग्राम चाय के लिए!

कहते हैं कि इस चाय की खेती 2.5 एकड़ के मैदान में की जाती है. इसकी खेती के लिए किसी भी तरह के रासायनिक उर्वरक का प्रयोग नहीं किया जाता.

Panda Dung Tea (Pic: рисующие-ветер)

विंटेज नारसिसस व्यू ऊलोंग टी

ऊलोंग टी एक 50 साल पुराने चाय के डब्बे में से आती है. यह काफी पुरानी और और विंटेज है. यही वजह मानी जाती है कि यह चाय 6,500 डॉलर में बस एक किलो ही आती है. इसकी एक और खासियत यह भी मानी जाती है कि इस चाय को प्रसिद्ध वुई पहाड़ पर उगाया गया था.

इसका यह 20 किलो का डिब्बा 1960 से जगह-जगह की सैर करता आ रहा है. कहते हैं कि कभी यह चीन में था फिर सिंगापुर गया और आखिर में हॉन्ग-कॉन्ग के एक विंटेज कलेक्टर ने इसे खरीद लिया. उस समय से वह इसके मजे ले रहा है.

Vintage Narcissus Wuyi Oolong Tea (Pic: jotot)

टाईगुआनयिन

3000 डॉलर प्रति किलो वाली यह चाय चीन की कुछ सबसे महँगी चाय में गिनी जाती है. इस चाय को काफी अच्छा माना जाता है शरीर के लिए. कहते हैं कि इसकी एक चुस्की में पाँचों इन्द्रियाँ खुल जाती हैं. इसे ब्लैक टी और ग्रीन टी के बीच की चाय माना जाता है.

इसका नाम एक बुद्धिस्ट देवता के नाम पर रखा गया है जिनका नाम था गुआन यिन. इस चाय की एक खूबी यह भी मानी जाती है कि इसकी एक पत्ती में इतना स्वाद होता है कि वह सात कप चाय के काम आ जाती है.

Tieguanyin Tea (Pic: wikipedia)

येलो गोल्ड बड्स

जैसा कि इसका नाम बताता है यह चाय की पत्तियों में असली सोना है. इसके एक किलो का दाम 3000 डॉलर माना जाता है और जिसे सिर्फ सिंगापुर में ही बेचा जाता है.

इस चाय की प्रोडक्शन साल में बस एक ही बार की जाती है. सिर्फ एक दिन किसी खास जगह इसे तोड़ने जाया जाता है… वह भी खास सोने की कैंचियों से!

टीडब्लूजी कंपनी की इस चाय के बहुत सारे दीवाने हैं… लेकिन लिमिटेड स्टॉक के कारण बहुत कम और खुशनसीब लोगों को ही यह मिल पाती है.

Yellow Gold Buds (Pic: flickr)

पू पू टी

पू पू टी का इतिहास 18 वीं शताब्दी से जुड़ा है. कहते हैं कि उस समय ही चीन के डॉक्टरों को पता चला था कि यह चाय औषधि की तरह काम कर सकती है.

आज के जमाने में इसका दाम 1000 डॉलर प्रति किलो है. इस किस तरह से बनाया जाता है यह सुनके शायद कुछ लोगों को थोड़ा अटपटा भी लगे. कहते हैं कि पू पू चाय को कुछ खास कीड़ों की मदद से बनाया जाता है. वह कीड़े चाय की पट्टी को खाते हैं. पत्तों का जो अंश नीचे गिर जाता है उसे इकठ्ठा करके यह चाय बनाई जाती है

Poo Poo Puerh (Pic: servingjoy)

ग्योकुरो टी

ग्योकुरो टी बनाने का तरीका बाकि चाय बनाने के तरीकों से अलग माना जाता है. कहते हैं कब इनकी कटाई होती है उससे दो हफ्ते पहले ही यह इन्हें धुप से दूर कर देते हैं. इससे इनके अंदर एमिनो एसिड बन जाता है जो इसे इसका विश्व प्रसिद्ध स्वाद देता है.

इसे ग्रीन टी की तरह माना जाता है, लेकिन उससे ज्यादा लाभदायक! कहते हैं कि इसका रंग जितना गहरा होता है उतना ही इसके अंदर का स्वाद भी बढ़ता है. इस खास चाय की कीमत है 650 डॉलर प्रति किलो.

Gyokuro Tea (Pic: englishteastore)

देखा आपने यह थी दुनिया की कुछ सबसे महँगी चाय. आम आदमी तो शायद ही इन्हें कभी चख पाए. तो आप भी बताइए आपको कौन सी चाय पसंद आई.

Web Title: Most Expensive Teas In The World, Hindi Article

Feature Image Credit: guoguiyan