कौन नहीं जानता सिकंदर महान को? उनकी वीरता और साहस के किस्से आम हैं. 20 की उम्र में वह मेसिडोनिया के राजा बने. कहते हैं कि उन्होंने अपनी मृत्‍यु तक हर उस जमीन को जीत लिया था, जिसे वह चाहते थे. यही वजह है कि उन्हें विश्‍वविजेता कहा जाता है. पर क्या आप जानते हैं कि सिकंदर बहुत आशिक मिजाज थे. महिला तो महिला वह पुरुष प्रेमी भी थे. आईये नजर डालते हैं उनकी रंगीन जिंदगी के कुछ हिस्सों पर…

पुरुष दोस्त के प्रेम में थे सिकंदर

सिकंदर की वीरता के किस्सों में एक नाम बहुत आम था. वह नाम था हिफेशियन. माना जाता है कि सिकंदर के हिफेशियन के शारीरिक संबथ थे. वह बचपन से ही उससे प्यार करते थे. दोनों ने साथ-साथ ही अरस्तु के गुरुकुल में पढ़ाई की थी. उन दोनों का प्रेम कितना गहरा था, इसका अंदाजा आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि वह अपना ज्यादातर वक्त एकसाथ बिताते थे.

एक बार तो वह पारस की रानी से मिलने गये तो वह पहचान नहीं पायी कि उन दोनों में से कौन सम्राट सिकंदर महान है, क्योंकि हिफेशियन की कद-काठी सिकंदर से ज़्यादा प्रभावशाली थी. उन्होंने गलती से हिफेशियन को ही सिकंदर महान कह कर सम्बोधित किया था. इस पर सिकंदर खिलाकर हंसा और हकीकत बताई तो वह डर से थरथराने लगीं. उन्होंने सोचा इस गलती के बाद सिकंदर उन्हें छोड़ेगा नहीं. इस पर सिकंदर ने कहा, ‘डरो मत रानी, हम दोनों एक ही हैं.

इससे भी दिलचस्प बात तो यह है कि एक युद्ध के दौरान अचानक जब हिफेशियन की मौत हो गयी, तो सिकंदर ने हथियार फेंककर उनकी लाश को गले से लगा लिया था. वह एक दिन से भी ज़्यादा समय तक हिफेशियन की लाश से लिपट कर रोते रहे थे. अंत में हार कर उनके अफसरों को जबरन उन्हें वहां से हटाना पड़ा था.

अपने दोस्त की मृत्यु के बाद सिकंदर पूरी तरह टूट गये थे. वह इस तरह रहने लगे, जैसे मानो उनका सब कुछ लुट गया हो. उनमें जीने की इच्छा खत्म सी हो गई थी. नतीजन वह धीरे-धीरे बीमार होते चले गये और 6 महीने के भीतर ही उन्होंने हमेशा के लिए अपने आंखें बंद कर ली.

Alexander the Great and Hephaestion, in Oliver Stone’s 2004 film (Pic: roespodcast.com)

काम्पस्पे ने सिखाया था सिकंदर को प्यार

काम्पस्पे को सिकंदर की पटरानी माना जाता था. कहा जाता है कि वह सिकंदर के जीवन की पहली महिला थी, जो उनके इतना नजदीक पहुंची थी. इसके पीछे बड़ी वजहें थी. असल में काम्पस्पे को ‘लारिसा’ की एक सम्माननीय नागरिक माना जाता था. ऊपर से वह इतनी ज्यादा आकर्षक थी कि सिकंदर भी खुद को नहीं रोक सका. सिकंदर के आव-भाव देखकर लोग हैरान थे. वह पूरी तरह से काम्पस्पे के साथ प्यार में थे. माना जाता है कि वह काम्पस्पे ही थी, जिन्होंने सिकंदर को प्यार करना सिखाया था. यही कारण था कि वह सिकंदर के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुकी थी. वह बात और है कि सिकंदर ने उनसे शादी नहीं की.

रोक्साना की सुंदरता के भी कायल थे सिकंदर

यूं तो सिकंदर ने तीन शादियां की थी, लेकिन वह प्यार सिर्फ रोक्सना से करते थे. रोक्साना उस समय की सबसे खूबसूरत महिला कही जाता थी. अपनी 28 की उम्र में सिकंदर उनको देखते ही मोहित हो गये थे. कहा जाता है कि सिकंदर को उनको पत्नी बनाने के लिए एक प्रतियोगिता में भाग लेना पड़ा था. अतंत: वह रोक्साना का प्यार पाने में सफल रहे और शादी के बंधन में बंधे. इसी दौरान जब सिकंदर की 323 ईसा पूर्व में मृत्यु हो गई, तो रॉक्साना गम में डूब गई. बाद में उन्हें पता चला कि वह पेट से हैं तो उन्होंने सिकंदर की दूसरी पत्नियां की हत्या कर दी, क्योंकि रोक्साना अपने बच्चे को सिकंदर का उत्तराधिकारी बनाना चाहती थीं.

Peter Paul Rubens: Alexander and Roxana (Pic: wikimedia.org)

बार्सिन के साथ अफेयर का दौर

बार्सिन एक महान फारसी, आर्टाबाज़स की बेटी और मेमन की पत्नी थी. माना जाता है कि अपने पति मेमन की मृत्यु के बाद वह सिकंदर के साथ प्रेम संबंधों में रहीं. सिकंदर भले ही बहुत बड़े राजा थे, पर बार्सिन के आगे उन्होंंने कभी अपनी ताकत नहीं दिखाई. वह बार्सिन को अपनी काबिलियत से पाना चाहता थे. शुरुआत में बार्सिन को सिकंदर में कोई दिलचस्पी नहीं थी. इस बात से उनके सामने सिकंदर खुद को थोड़ा सा असहज महसूस करते थे. असल में बार्सिन को विश्वास नहीं था कि सिकंदर सच में उनको लेकर गंभीर है. बाद में जब सिकंदर ने अपने मन की बात उनको बताई तो बार्सिन ने इस रिश्ते के लिए हां कर दिया.

बगोआस के नृत्य के दीवाने…

बगोआस भी सिकंदर की बाकी पसंद की गई लड़कियों की तरह ही बहुत ही खूबसूरत थी. सिकंदर को उनमें जो सबसे ज्यादा पसंद था, वह था उनका नृत्य. बगोआस को बचपन से ही नाचने गाने का खासा शौक था. उन्हें कई बार उनके नृत्य के लिए सम्मानित किया गया था. माना जाता है कि किसी त्यौहार के समय सिकंदर की नजर उन पर पड़ी थी औऱ वह उनके नृत्य के कायल हो गये थे. वह जानना चाहते थे कि वह कौन है? बाद में जब जान पहचान हुई तो वह सिलसिला लम्बा चला. धीरे-धीरे नजदीकियां इतनी बढ़ गईं कि वह सिकंदर के जीवन में खास बन गईं. हालांकि, बगोआस और सिकंदर के बीच की संबंधों के बारे में कभी कुछ खुलकर सामने नहीं आया, लेकिन माना जाता है कि वह सिकंदर की प्रेमिकाओं की लिस्ट में अच्छे स्थान पर थी.

Love Life Of Alexander the Great (Pic: wikipedia.org)

यह थे सिकंदर महान की आशिक मिजाजी से जुड़े कुछ नाम. ऐसे कई और नाम हो सकते हैं, जिनके साथ सिकंदर महान के प्रेम संबध रहें होंगे. आपके पास है अगर ऐसा कोई और नाम तो हमें नीचे लिखे कमेंट बॉक्स में लिख भेजें. साथ ही यह बताना मत भूलियेगा कि आपको हमारी यह पेशकश कैसी लगी? आपकी प्रतिक्रिया हमारे लिए उत्साहवर्धक है.

Web Title: Love Life Of Alexander the Great, Hindi Article

Keywords: Homosexuality Sex, Bisexual, Alexander the Great, Hephaestion, Relationship, Greek, lovers, Friends, Military,Traditions, Love Life of Alexander The Great, Sikandar Mahan, Biography, Philip II of Macedon, Olympias, Roxana, Stateira II, Parysatis II, History, Ancient Traditions

Featured image credit / Facebook open graph: ancient-origins.net