यूं तो रोम के इतिहास में बहुत से बड़े-बड़े लोगों ने जन्म लिया है, लेकिन ‘दी ग्रेट’ का दर्जा हर किसी को नहीं मिला. पोम्पे उन चुनिन्दा लोगों में से एक था, जिन्हें यह दर्जा दिया गया. पोम्पे को यह टाइटल जंग के मैदान में अपनी होशियारी और बहादुरी दिखाने के कारण मिला था. कहते हैं कि रोम की धरती पर पोम्पे जैसा शायद ही कोई और आया हो. जिन जगहों पर रोम के कदम नहीं पहुंचते थे, उन जगह पर पोम्पे ने जीत दिलाई थी. पोम्पे को जंग का बादशाह माना जाता था. तो आइये पोम्पे से जुड़े कुछ और पहलुओं से रु-ब-रु होते हैं:

सेना में भर्ती हो दिखाया दम

पोम्पे वैसे तो इटालियन मूल का था, लेकिन उसके पिता रोमन सेना में थे. बचपन से ही पिता को सेना में देखते हुए पोम्पे बड़ा हुआ था. वैसे भी रोम में सेना में भर्ती होना एक तरह का रिवाज था. हर कोई रोम की विश्व प्रसिद्ध सेना का हिस्सा बनना चाहता था. पोम्पे भी उनमें से ही एक था.

आम तौर पर सेना में नौजवान पूरी तरह बड़े होने पर ही आते हैं, लेकिन पोम्पे ने इतना इंतज़ार नहीं किया. माना जाता है कि वह महज 17 साल का ही हुआ था कि उसने सेना में जाने की ठान ली. कहते हैं कि उस समय इटली रोमन के कब्ज़े में था. (Link In English) रोमन इटली पर अपना हक़ जताता था. इस बात से तंग आकर पूरे इटली ने रोम के राज के खिलाफ अपनी आवाज उठानी शुरू कर दी. धीरे-धीरे इसने जंग का रुप ले लिया.

पोम्पे इस जंग का हिस्सा बना. उसने अपनी बहादुरी और समझदारी से सभी को प्रभावित किया. रोमन को इटली पर मिली जीत के लिए उसका बड़ा योगदान था. जंग के बाद पोम्पे का रुतबा बढ़ गया था. उसकी एक अलग पहचान बन गयी थी. लोग उसका नाम अदब से लेने लगे थे. यही वह समय था जब वह, पोम्पे से ‘पोम्पे-द-ग्रेट’ बनने की ओर आगे अपना कदम बढ़ा चुका था.

Pompey The Great (Symbolic Pic: wallpaperup.com)

हर जगह अपना परचम लहराया

उस दौर में रोमन साम्राज्य में एक खास किस्म का चलन था. इसके हिसाब से रोमन सेना किसी भी युद्ध को जीतने के बाद जश्न मनाती थी. इसमें रोमन सेनापति और उसकी सेना मुख्य रुप से भाग लेते थे. पोम्पे ने तो अपनी पहली जंग से ही राजा सुल्ला का दिल जीत लिया था.(Link In English) वह पोम्पे की समझदारी और बहादुरी का कायल हो गया था. पोम्पे और राजा के बीच बढ़ती नजदीकी से कई लोग खफा होने लगे थे. वह नहीं चाहते थे कि पोम्पे जैसा कोई बच्चा इनाम का हकदार बने.

हालांकि, पोम्पे कहने के लिए एक बच्चा जरूर था, लेकिन उसमें काबिलियत किसी व्यस्क से कम न थी. शायद इसलिए वह राजा सुल्ला का ख़ास बन गया था. राजा ने उसे जहां भी भेजा वह वहां से जीतकर ही आया.

मिला ‘पोम्पे-द-ग्रेट का दर्जा क्योंकि…

पोम्पे सुल्ला के साथ ही बना रहा. इटली में तो दोनों ने अपना हुनर दिखाया ही था, लेकिन उसके बाद भी दोनों साथ ही रहे थे. दोनों रोम और उसके बाहर जाकर जंग लड़ रहे थे. वैसे भी अब पोम्पे के बिना सुल्ला को किसी भी जीत पर सफल होना मुश्किल था. कुछ ही दिनों में सुल्ला पोम्पे को रोम से काफी दूर अफ्रीका लेकर गया. अफ्रीका बहुत ही मुश्किल से हाथ आने वाली जगहों में से एक था. अपने वतन से दूर पोम्पे अपने राजा के पीछे-पीछे चल पड़ा.

अफ्रीका में भी पोम्पे को जंग लड़नी थी. (Link In English) उसे फिर से दिखाना था कि उसमें दम था. उसने अपने राजा को निराश नहीं किया. अफ्रीका के खिलाफ पोम्पे इतना खूब लड़ा कि सुल्ला ख़ुशी से झूम उठे. पोम्पे इनाम का हकदार था. उसको ईनाम देने की बात की गई.

अपने सबसे होनहार सेनापति को उसने ऐसा तोहफा दिया, जिसके बारे में किसी ने नहीं सोचा होगा. सुल्ला ने पोम्पे को ‘मैगनस’ यानी ‘दी ग्रेट’ का दर्जा दिया. यह दर्जा बहुत ही कम लोगों को नसीब होता था. पोम्पे उन खुशनसीब लोगों में से एक था. पोम्पे की इस सफलता ने उसे रातों-रात महान बना दिया.

Pompey The Great (Symbolic Pic: planetfigure.com)

समुद्री लुटेरों से दिलाई निजात

कहते हैं कि उस समय में समुद्री लुटेरे रोम के समुद्री तटों पर अपना राज जमा रहे थे. (Link In English) वह धीरे-धीरे और आगे बढ़ते जा रहे थे. समुद्र ही रोमन लोगों के व्यापार का एक जरिया था. उन्हें डर था कि कहीं उन लुटेरों की वजह से कोई बड़ी परेशानी सामने न आ जाए. लुटेरों की दिक्कत को ख़त्म करने का जिम्मा पोम्पे को दिया गया था. पोम्पे ने इस जगह भी अपनी बहादुरी और समझदारी का परचम लहरा ही दिया.

कहते हैं कि लुटेरों से छुटकारा पाने के लिए सुल्ला ने पोम्पे को पूरी ताकत दे दी. सुमुद्र में वह जैसे चाहे वैसे जंग लड़ सकता था. उसके ऊपर किसी प्रकार की बंदिशें नहीं थीं. सुमद्र के साथ-साथ उसे यह भी छूट दी गई कि वह समुद्र से 50 मील की दूरी के अंदर आने वाले किसी भी सरकारी व्यक्ति से अपना काम करवा सकता था. पोम्पे ने वहां जाते ही अपना कहर बरसा दिया. हर कोई पोम्पे के सामने आने से डरने लगा.

पोम्पे को वक़्त नहीं लगा लुटेरों को दिखाने में कि आखिर वह क्या चीज़ है.

माना जाता है कि एक साल से भी कम वक़्त में लुटेरों से आम जन की परेशानी ख़त्म हो गई थी. पोम्पे ने एक बार और खुद को साबित कर दिया था. एक और जश्न उसका इंतजार कर रहा था.

Pompey The Great (Symbolic Pic: totalwar.com)

बड़े दिल वाला था पोम्पे

पोम्पे जितना बहादुर था उतना ही वह इंसानियत में भी विश्वास करता था. पोम्पे ने वक़्त-वक़्त पर अपनी इंसानियत के नमूने दिखाए. उसकी इन्हें खूबियों के कारण ही लोग उसे महान का दर्जा देते थे. समुद्री लुटेरों को हराने के बाद पोम्पे ने उनका ख़्याल रखा. कहते हैं कि पोम्पे ने समुद्री लुटेरों को हराने के बाद एक नई जिंदगी जीने में उनकी सहायता की. उसने उन्हें कॉलोनीवासियों की तरह रहना सिखाया. उसने उन्हें बताया कि खानाबदोश जिंदगी से बाहर कैसे आया जाए. पोम्पे ने उन्हें जीने के नए-नए तरीके बताए और उनका एक अलग संसार बसाया.

धोखे से हुआ पोम्पे का अंत

कहते हैं कि उस समय पोम्पे का, जो सबसे बड़ा दुश्मन था, वह था जूलियस सीज़र. दोनों की एक दूसरे से बिल्कुल भी नहीं बनती थी. उसके और सीज़र के बीच जंग छिड़ गई थी. चूंकि दोनों ही जंग में माहिर थे, इसलिए पहले से कह पाना मुश्किल था कि कौन जीतेगा? दोनों ने एक-दूसरे को कड़ी चुनौती थी. सीज़र का ग्रीस पर ज्यादा दबदबा था, इसलिए उसके पास ताकत थोड़ी ज्यादा थी. अतः सीज़र पोम्पे से जंग में जीत गया.

दुश्मन के हाथ आने से बचने के लिए पोम्पे अपने दोस्त के पास मिस्र चला गया. (Link In English) मिस्र के राजा ने पोम्पे को मिस्र आने की अनुमति दी हुई थी. उसे इजाज़त थी कि वह मिस्र आकर अपना जीवन बिता सकता था. वह राजा के बुलावे पर वहां पहुंच तो गया, लेकिन उसे क्या पता था कि मौत उसके इतने नजदीक थी. मिस्र के राजा के इशारे पर पोम्पे को मार दिया गया.

पोम्पे के समय में यूं तो जूलियस सीज़र भी था, लेकिन आज भी पोम्पे का नाम उससे बड़ा माना जाता है. पोम्पे ने अपनी मेहनत से वह नाम कमाया था. वह किसी भी कीमत पर उसे डूबने नहीं देना चाहता था, पर नियति को कुछ ही मंजूर था. कुल मिलाकर देखें तो पोप रोम इतिहास का एक बहुत ही अहम पहलू था, जिसे आज भी लोग याद करते हैं.

Web Title: Pompey The Great, Hindi Article

Keywords: Pompey, Roman, History, Killing, Julius Caesar, Alexander, The Great, Greece, Triumph, Great General, Roman Army, Spain, Italy, Africa, Syria, Rival, Fight, War, Battle, Pompey The Great, Famous General, Hindi Article, Pompey The Great

Featured image credit / Facebook open graph: tv.com