वैम्प, मोहिनी, कैबरे डांसर, मनमोहक अदा, बोल्ड एक्ट्रेस… इनमें से किसी भी एक टॉपिक पर 80 के दशक में अगर बात होती थी, तो लोगों की जुबां पर एक ही नाम होता था ‘सिल्क स्मिता’!

उनका करियर भले ही छोटा रहा हो, लेकिन जिस तरह से उन्होंने अपनी अदाओं और अभिनय का जादू बिखेरा, उसे लोग आज तक नहीं भूलते.

यही कारण है कि समय-समय पर वह उनको याद करते हैं, लेकिन सिल्क ने जिस तरह सिल्क ने अपने चाहने वालों को अलविदा कह दिया, वह आज भी रहस्य बना हुआ है!

‘सिल्क’ की छवि कुछ लोगों के हिसाब डर्टी गर्ल वाली है, जिसे कथित रूप से एकता कपूर और मिलन लुथरिया ने अपनी फिल्म डर्टी पिक्चर में दिखाया, जिस पर विवाद भी जन्मा. यहां तक की सिल्क के भाई वल्दपति नागवर प्रसाद के दखल के कारण खूब हो-हल्ला भी मचा.

खैर, आखिर में पिक्चर रिलीज हुई और ‘सिल्क’ का ही जादू था कि फिल्म बड़ी हिट भी साबित हुई. इतनी बड़ी हिट कि विद्या बालन को कई पुरस्कार दिला दिए.

तो आईये दर्शकों के दिल में राज करने वाली रियल लाइफ की सिल्क को जानने की कोशिश करते हैं–

अपनों से संघर्ष

सिल्क का जन्म आंध्रप्रदेश के एलुरू में 2 दिसंबर 1960 को एक आम परिवार में हुआ. सिल्क का रियल नेम विजयलक्ष्मी था. फिल्मों में आने के बाद उन्होंने अपना नाम सिल्क स्मिता रखा.

सिल्क ने फिल्मफेयर मैगजीन को दिए अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि फिल्म जगत में काम करने के लिए उन्हें अपने परिवार से झगड़ना पड़ा था. कुल मिलाकर उनका सफर आसान नहीं था, वह तो उनके कुछ रिश्तेदारों की मदद से वह आगे बढ़ सकीं. असल में उनके कुछ संबंधी फिल्मों में छोटे-मोटे रोल किया करते थे.

इसका फायदा उन्हें मिला और वह फिल्मों में छोटे-मोटे रोल पाने में सफल रहीं. इन मौके पर उन्होंने अपना पूरा दम दिखाया, तो वह जल्द कई निर्देशकों की नज़र में आ गई. नतीजा यह रहा कि फिल्म ‘वंडीचक्रम’ से वह एक ग्लैमरस एक्ट्रेस के तौर पर स्थापित हुईं.

निर्माता-निर्देशकों ने उन्हें ग्लैमरस एक्ट्रेस के रोल ही ज्यादा ऑफर किए, इसलिए वह हमेशा इसी तरह के किरदारों में नजर आती थीं. हालांकि, उनकी ख्वाहिश थी कि वह कैरेक्टर आर्टिस्ट बनें और उन्होंने कई फिल्मों में अच्छे रोल भी किए.

जस्टिस राजा, सदमा, सुभाष, कर्मा, माफिया, अंथम जैसी फिल्में इसके कुछ उदाहरण हैं.

Silk Smitha (Pic: freepressjournal)

‘वंडीचक्रम’ ने बनाया सिल्क, जबकि…

दरअसल, साउथ इंडियन सिनेमा में बतौर मेकअप आर्टिस्ट अपने करियर की शुरूआत करने वाली स्मिता ने अपनी पहली तमिल फिल्म ‘वंडीचक्रम’ में ‘सिल्क स्मिता’ नाम की लड़की का रोल प्ले किया था. उनका यह किरदार लोगों को खूब पसंद आया तो वह ‘सिल्क स्मिता’ के नाम से मशहूर हो गईं. इतनी मशहूर हो गयीं कि धीरे-धीरे उनका असली नाम दस्तावेजों में कैद होकर रह गया.

इस फिल्म में उनकी मादक अदाओं का जादू लोगों पर ऐसा चला कि वह साउथ इंडियन सिनेमा की ‘सेक्स सायरन’ बन गई. इसका नतीजा यह रहा कि सिल्क रातों-रात स्टार बन गईं. तमाम निर्माता निदेशक उन्हें अपनी फिल्म में कास्ट करने के लिए कतार में खड़े दिखाई देने लगे. अपने करियर के पीक पर उन्होंने उस जमाने के सभी सुपरस्टार्स के साथ काम किया था. इनमें रजनीकांत, कमल हासन, चिरंजीवी जैसे स्टार्स के नाम तक शामिल हैं.

कहते हैं कि उस दौर में सिल्क की डिमांड इतनी ज्यादा थी कि किसी फिल्म में सिर्फ उनके होने से ही वह सुपरहिट हो जाती थी. यही वजह है कि बड़े से बड़ा स्टार अपनी फिल्म में उनका एक रोल या फिर आइटम सॉन्ग जरूर रखता था. उस वक्त वह अपने एक सिल्क स्मिता एक गाने के 50 हजार रुपये बतौर फीस चार्ज करती थीं, जो उस जमाने की कई बड़ी एक्ट्रेस की फीस से ज्यादा थी.

एक से बढ़कर एक आरोप लगे!

सिल्क बहुत कम समय में लोकप्रिय हुई थीं, इसलिए उनके बारे में गलत धारणाएं भी तेजी से पनपी. माना जाता है कि एमजीआर के एक कार्यक्रम में वह वादा करने के बावजूद भी नहीं पहुंच पाई, तो लोगों ने इसे एमजीआर का अपमान बताया. हालांकि, बात में सिल्क ने इस पर सफाई देते हुए कहा था कि ऐसा बिल्कुल नहीं था.

वह कार्यक्रम में जाना चाहती थीं, लेकिन उसी दिन उन्हें एक्टर चिरंजीवी की एक फिल्म की शूटिंग खत्म करनी थी, इसलिए वह मौके पर नहीं पहुंच सकीं. उनका मतलब साफ था कि उनका इरादा सीएम का अपमान करने का नहीं था, वह तो अपने बिजी शेड्यूल के आगे विवश थीं.

इसके अलावा उन पर एक प्रोग्राम में सुपरस्टार शिवाजी गणेशन का अपमान करने के लिए खूब भला-बुरा सुनने को मिला. बताया गया कि उन्होंने गणेशन के सामने पैर पर पैर रखकर बैठने की हिमाकत की थी, जबकि सच तो यह था कि बचपन से ही सिल्क इस तरह बैठती आईं थीं.

सिलसिला यहीं नहीं रुका!

सिल्क एक फिल्म के प्रमोशन के लिए सिंगापुर गई थीं, तो वहां उन पर तस्करी करने के आरोप लगे थे. बताया गया कि वह सिंगापुर से वापिस आ रही थीं, तो उन्हें कस्टम ऑफिसर्स ने एयरपोर्ट पर चेकिंग के लिए रोक लिया था. बाद में जांच हुई तो उनके पास से कई अवैध, बेस कीमती चीजें बरामद की गई थीं.

Silk Smitha, Controversy (Pic: teluguone)

ताउम्र सच्चे प्यार के लिए तरसती रहीं

‘सिल्क’ की शादी बचपन में ही कर दी गई थी, जो टूट गई. फिर स्टार बनने के बाद सिल्क के कई अफेयर सुनने को मिले, लेकिन कभी उनके हिस्से में सच्चा प्यार आया ही नहीं. सिल्क ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर एक प्रोडक्शन हाउस भी खोला था, जो बुरी तरह कर्ज के तले दब गया. इसके बाद से ही सिल्क डिप्रेशन में रहने लगीं.

रही सही कसर उनकी कुछ फ्लॉप फिल्मों ने पूरी कर दी.

इससे वह अवसाद में डूब गईं और 23 सितंबर 1996 को उन्होंने अपने घर के पंखे से लटककर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. हालांकि यह सुसाइड था या फिर मर्डर इस बात का खुलासा आज तक नहीं हो सका.

सिल्क स्मिता की कशिश भरी नजरें और मादक चाल से प्रभावित होकर फेमस डायरेक्टर वीणू चक्रवर्ती ने उन्हें एक्ट्रेस बनाया था. सिल्क ने अपने छोटे से करियर में लगभग 450 फिल्मों में काम किया था.

इस दौरान भले ही स्क्रिप्ट की डिमांड पर उन्होंने जमकर एक्सपोज किया हो, लेकिन वह बहुत ही खुशमिजाज और नेक दिल इंसान थीं!

Silk Smitha, Death ( Pic: starsfact)

मगर लोगों ने कभी सिल्क को उनकी सेक्स सिंबल वाली छवि के बाहर आकर देखना ही नहीं चाहा.  कुछ लोगों का तो ये तक कहना है कि सिल्क 80 के दशक की मर्लिन मुनरो थीं.

जाहिर तौर पर यह एक बड़ी तुलना कही जा सकती है, पर सिल्क का अंत इतना दुखद रहा और इस बात का उनके प्रशंसकों को अवश्य ही दुःख रहा होगा.

Web Title: Silk Smitha the Real Actress, Hindi Article

Feature Representative Image Credit: Filmifiles