इस बार का आईपीएल सीजन अपने साथ ढ़ेर सारे नए रंग लेकर आया. एक तरफ जहां इस खेल के बड़े मियां यानी क्रिस गेल, विराट कोहली और एवी डिविलियर्स जैसे दिग्गजों का फ्लाप शो देखने को मिला तो वहींं दूसरी तरफ छोटे खिलाड़ियों का हिट प्रदर्शन सुर्खियों में रहा. खूब सारे रिकॉर्ड्स बने और टूटे भी. इसी कड़ी में आज बात मौजूदा सीजन के उन छोटे उस्तादों की, जिन्होंने न सिर्फ अपने हुनर से मैचों के परिणाम प्रभावित किए हैं, बल्कि बड़े-बड़ों का दिल जीतने में भी कामयाब रहे.

राहुल त्रिपाठी (राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स)

मौजूदा सीजन में राइजिग पुणे सुपरजाइयंट्स के राहुल त्रिपाठी को इस सीजन के पहले कोई नहीं जानता था. पहली बार जब त्रिपाठी रहाणे ओपन करने के लिए उतरे, तो सभी कप्तान के इस फैसले से आश्चर्यचकित रह गये. दाहिने हाथ के इस युवा खिलाड़ी ने लगातार मैचों में रनों का अंबार लगाया और पावरप्ले में तेजी से रन बनाते हुए अजिंक्य रहाणे के ऊपर से सारा दबाव खत्म कर दिया. उनके नाम चार बार 30 से ज्यादा और एक बार 40 से ज्यादा का स्कोर है. इस दौरान उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ शानदार 95 रनों की पारी खेली. वह जब से टीम का हिस्सा बने, तब से टीम आगे बढ़ी.

शार्दुल ठाकुर (राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स)

अपने गेंदबाजी के शानदार प्रदशर्न के दम पर राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के युवा खिलाड़ी शार्दुल ठाकुर ने सभी को प्रभावित किया. आरसीबी के खिलाफ खेले गये एक मैच में तो उन्होंने अपनी घातक गेंदबाजी से कोहली और गेल जैसे दिग्गजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया. इस मैच में उन्होंने 3 विकेट झटके थे. इसके अवाला उनके ओवरऑल प्रदर्शन की बात की जाये उन्होंने अपने खेले गये 11 मैचों में 11 विकट लिए.

Finalist of IPL 2017, Shardul Thakur (Pic: mid-day.com)

वॉशिंगटन सुंदर (राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स)

आईपीएल 10 के पहले क्वालिफायर में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स को फाइनल का टिकट दिलाने में वॉशिंगटन सुंदर की अहम भूमिका रही. मुंबई इंडियंस के खिलाफ 20 रनों से जीत में इस युवा ऑफ स्पिनर ने 4 ओवर में 16 रन देकर 3 विकट चटकाए. अपने इस प्रदर्शन की बदौलत उन्होंने आईपीएल में एक साथ दो बड़े रिकॉर्ड बना डाले. वॉशिंगटन सुंदर ने आईपीएल में सबसे कम उम्र में मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड हासिल करने का रिकॉर्ड बनाया.

नीतीश राणा (मुंबई इंडियंस)

इस सीजन में नीतीश राणा ने मुम्बई इंडियंस की ओर से कई मौकों पर विनिंग पारियां खेली हैं. इन्होंने 13 मैचों में 126 के स्ट्राईक रेट से 333 रन बनाए हैं, जिसमें 3 फिफ्टी शामिल हैं. कोलकाता के खिलाफ मैच में उन्होंने 50 रन की इनिंग में 5 चौके और 3 छक्के लगाकर सभी का दिल जीत लिया था. उनके बल्ले की हनक इससे ही समझी जा सकती है कि कप्तान रोहित शर्मा ने उन्हें खुद से ऊपर खेलने का मौका दिया.

संजू सैमसन (दिल्ली डेयरडेविल्स)

दिल्ली डेयरडेविल्स से ही खेल रहे 22 साल के संजू सैमसन अपनी कुछ बेहतरीन पारियों से सभी का ध्यान खींचने में सफल रहे. पहले सीजनों के उलट उन्होंने निरंतरता दिखाई, जो उनकी बल्लेबाजी में एक अच्छा परिवर्तन है. इस टूर्नामेंट में उन्होंने 1 शतक और 2 अर्धशतक की मदद से 386 रन बनाए हैं. वह बात और है कि इस खिलाड़ी को अन्य खिलाड़ियों की तरह तबज्जों नहीं मिलती आई है.

ऋषभ पंत (दिल्ली डेयरडेविल्स)

ऋषभ पंत दिल्ली डेयरडेविल्स के वह खिलाड़ी, जिन्होंने मैदान में उतरने से पहले ही सभी का दिल जीत लिया था. टूर्नामेंट के शुरुआत के पहले ऋषभ पंत के पिता का निधन हो गया था, एक पल के लिए लगा कि वह शुरुआती मैचों में खेलते हुए नज़र नहीं आयेंगे, लेकिन उन्होंने सबको गलत साबित कर दिया और टीम में वापसी करते हुए अपने पहले ही मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ अर्धशतक जड़ दिया.

पूरे सीजन में उनके बल्ले से रन निकलते रहे. उनकी सबसे बेहतरीन पारी गुजरात लायंस के खिलाफ आई जब उन्होंने 43 गेंदों में 97 रन ठोक डाले. इस दौरान उन्हें मैन ऑफ द मैच ही नहीं मिला, बल्कि सचिन तेंदुलकर ने भी इनकी तारीफ में कसीदे पढ़े.

Finalist of IPL 2017, Rishabh Pant (Pic: indianexpress.com)

श्रेयस अय्यर (दिल्ली डेयरडेविल्स)

दिल्ली डेयरडेविल्स भले ही प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई न कर पाई हो, लेकिन उनके युवा खिलाड़ी खूब चमके हैं. श्रेयस अय्यर उसमें से एक नाम है. इस सीजन में भी अय्यर का बल्ला खूब चला. उन्होंने जिस तरह से गुजरात लायंस के खिलाफ 57 गेंदों में 96 रन ठोके वह गजब का प्रदर्शन था. उन्होंने कई मैचों में मध्यक्रम से लेकर अंतिम ओवर तक बल्लेबाजी की.

बासिल थंपी (गुजरात लायंस)

गुजरात लायंस ने जब 85 लाख रुपए खर्च करके बासिल थंपी को टीम का हिस्सा बनाया तो किसी को समझ नहीं आया कि यह क्यों किया गया, पर मैदान पर थंपी ने अपनी गेंदबाजी का जौहर दिखाया तो सभी की बोलती बंद कर दी. थंपी सबसे ज्यादा डेथ ओवरों में अपने सटीक यॉर्कर और बेहतरीन इकोनॉमी रेट के लिए सराहे गए. थंपी ने इस आईपीएल में केवल जहां 9.49 की इकोनॉमी रेट से रन लुटाए, तो वहींं 12 मैचों में 11 विकेट लिए.

ईशान किशन (गुजरात लायंस)

ईशान किशन मौजूदा सीजन में गुजरात लायंस में बतौर विकेटकीपर खेल रहे थे. उन्होंने अपने 11 मैचों में 134.46 के स्ट्राइक रेट से 277 रन बनाए हैं. इनकी बल्लेबाजी की सबसे बेहतरीन बात यह रही कि उन्होंने अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई. किशन ब्रैंडन मैक्कलम और ड्वेन स्मिथ जैसे बड़े बल्लेबाजों के साथ खेले और इस दौरान यह कहींं भी नहीं लगा कि वह किसी से भी उन्नीस खेले हो.

Top Rising Stars from IPL 2017, Ishan Kishan (Pic: hindustantimes.com)

राशिद खान (सनराइजर्स हैदराबाद)

अपना पहला सीजन खेल रहे अफगान खिलाड़ी ने पहले नीलामी में हैदराबाद द्वारा खरीदे जाने पर सभी को चौंकाया और बाद उन्होंने अपनी गेंदबाजी से सभी को मोहित कर दिया. उनकी लेग स्पिन के आगे एक से एक बड़े बल्लेबाज चारों खाने चित होते देखे गये. अपनी गेंदबाजी से उन्होंने इस सीजन में लगभग हर बल्लेबाज को छकाया है. कोई भी बल्लेबाज अब तक उनको पढ़ नहीं पाया है. उन्होंने खेले गये 14 मैचों में 17 विकेट लिए.

सिद्धार्थ कौल (सनराइजर्स हैदराबाद)

दाएं हाथ के तेज गेंदबाज सनराइडर्स हैदराबाद के सिद्धार्थ कौल ने इस सीजन में 10 मैचों में 16 विकेट अपने नाम किए. सटीक गेंदबाजी की बदौलत डेथ ओवर्स में उन्होंने कई बार इस सीजन में अपनी टीम को मुश्किलों से बाहर निकाला. कौल इससे पहले साल-2014 और 2013 में भी आईपीएल खेल चुके हैं. लेकिन तब उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले थे. इस बार कप्तान वार्नर ने उन पर भरोसा जताया तो उन्होंने बिल्कुल भी निराश नहीं किया.

मोहम्मद सिराज (सनराइजर्स हैदराबाद)

एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर के बेटे मोहम्मद सिराज को सनराइजर्स हैदराबाद ने आईपीएल-10 के लिए उनके 20 लाख रुपये के बेस प्राइस से 10 गुणा ज्यादा 2.6 करोड़ रुपये में खरीदा. उनका यह पहला आईपीएल रहा. निश्चित तौर पर उनका जिस तरह का प्रदर्शन रहा है. इसमें दो राय नहीं है कि चयनकर्ताओं की नज़र में वह आ चुके होंगे. इस सीजन में उनकी गेंदबाजी की बात करें, तो उन्होंने खेले 6 मैचों में 10 विकेट अपने नाम किये हैं.

‘चाइनामैन’ कुलदीप यादव (केकेआर)

ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ धर्मशाला में खेले गये चौथे टेस्ट मैच में शानदार गेंदबाजी के बाद लाइमलाइट में आये ‘चाइनामैन’ कुलदीप यादव मौजूदा टूर्नामेंट में गौतम गंभीर की अगुवाई वाली केकेआर का हिस्सा बने. कप्तान ने उन पर भरोसा जताया, तो उन्होंने भी निराश नहीं किया. अपनी शानदार गेंदबाजी का क्रम जारी रखते हुए अपने खेले गए 12 मैचों में 12 विकेट अर्जित किए.

Top Rising Stars from IPL 2017, Kuldeep Yadav (Pic: cricpick.in)

उम्मीद है यह युवा इसी तरह आगे भी अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे, ताकि जल्द से जल्द उन्हेंं भारतीय टीम में खेलने के लिए मौका मिल सके. भावी भविष्य के लिए इन युवाओं को बहुत-बहुत शुमकामनाएं.

Web Title: Top Rising Stars from IPL 2017, Hindi Article

Keywords: Basil Thampi, Gujarat, Nitish Rana, Mumbai Indians, Tournament Matches, Rishabh Pant, Delhi Daredevils,Ishan Kishan, Mohammed Siraj Hyderabad franchise.Kuldeep Yadav, Kolkata Knight Riders,Shardul Thakur, Rising Pune Supergiant

Featured image credit / Facebook open graph: www.iplt20.com