साल 2010 में आई फिल्म ‘रोबोट‘ हम सबको याद है. इस फिल्म में दिखाया गया कि कैसे एक रोबोट खुद में इंसान जैसी भावनाएं आने और बुरी शक्तियों के कारण मनुष्य जाति का ही दुश्मन बन बैठता है.

अक्सर रोबोट के किरदार को कई हॉलीवुड और बॉलीवुड फिल्मों में इसी तरह दिखाया जाता है. इस कारण हमारे ज़हन में रोबोट को लेकर एक नकारात्मक छवि बनी हुई है… कुछ ही समय पहले हॉन्ग कॉन्ग के एक वैज्ञानिक ने ऐसे रोबोट का निर्माण किया है जिसका उद्देश्य लोगों से बातचीत करना और उनसे सीखना है.

इस रोबोट का नाम है ‘सोफिया’!

सोफिया को इंसानों जैसा दिखने और बात करने के कारण दुनियाभर में काफी लोकप्रियता मिली है.

तो चलिये आज इस मनुष्य जैसी दिखने और बात करने वाली रोबोट ‘सोफिया’ को जानने की कोशिश करते हैं–

इंसानों जैसी है सोफिया

सोफिया एक ह्यूमनॉइड रोबोट है, जोकि देखने और व्यवहार में एक आम इंसान जैसी है. सोफिया को हॉन्ग कॉन्ग की एक कंपनी हेनसन रोबोटिक्स ने लांच किया है. सोफिया रोबोट को कंपनी के फाउंडर डॉ डेविड हेनसन ने खुद बनाया है. इस रोबोट की सबसे ख़ास बात यह है कि इसे लोगों से बातचीत करने और उनके साथ काम करने के लिए खास तौर से डिज़ाइन किया गया है. इसे इस तरह से प्रोग्राम किया गया है कि यह किसी आम इंसान जैसी ही कार्यशील हो.

सोफिया को 19 अप्रैल, 2015 को सक्रिय किया गया. सोफिया की आवाज़ प्रणाली गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक ने बनाई है. वहीं दिमाग का निर्माण आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में काम करने वाली कंपनी सिंगुलैरिटी नेट ने किया है. सोफिया का स्वामित्व सॉफ्टवेयर, फर्मवेयर और हार्डवेयर इतना अलग है कि इसकी नकल का दूसरा रोबोट बनाना असंभव ही माना जा रहा है.

सोफिया की त्वचा को ‘फरबर’ नामक एक रबड़ से बनाया गया है, जिससे उसकी त्वचा काफी हद तक इंसानों जैसी ही दिखाई देती है. सोफिया हॉलीवुड अभिनेत्री ऑड्री हेपबर्न की तरह दिख पाए इसलिए इसमें बहुत से काम किए गए हैं.

Humanoid Robot Sophia (Pic: ylhsthewrangler)

लोगों की मदद करना है उद्देश्य!

सोफिया को बनाने वाले डॉ डेविड हेनसन ने कई प्रकार के ह्यूनॉएड रोबोट बनाए हैं. हेनसन ने अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद डिज्नी कंपनी में रोबोट डिज़ाइनर के तौर पर काम किया. साल 2013 में उन्होंने इंसानों जैसे रोबोट बनाने के मकसद से अपनी खुद की कंपनी ‘हेनसन रोबोटिक्स‘ की शुरुआत की. सोफिया के अलावा हेनसन ने प्रोफेसर आइंस्टीन, अल्बर्ट आइंस्टीन हुबो, ज्यूल्स, BINA48 नाम के कई ह्यूमनॉइड रोबोट बनाए हैं.

सोफिया को तैयार करने वाली कंपनी के मुताबिक यह रोबोट जल्द ही इंसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाती दिखाई देगी. कंपनी के मुताबिक वह कहीं शिक्षिका की भूमिका, तो कहीं रिसेप्शनिस्ट की भूमिका निभाएगी. सोफिया के यह गुण निश्चित रूप से समाज और देश दुनिया को बदलने जा रहे हैं. सोफिया के जरिए न जाने कितनी ही जगह इंसानों का काम आसान हो जाएगा.

हेनसन के मुताबिक सोफिया को बनाने का उद्देश्य रोबोट को आम लोगों की ज़िन्दगी से जोड़ना और उन्हें दोस्त बनाना है. साथ ही, रोबोट को मेडिकल के क्षेत्र में बुजुर्गों और विकलांग लोगों की मदद करने के काबिल बनाना भी है.

Robot Sophia With Dr David Hanson (Pic : pinterest)

कई भावनाओं का मेल है सोफिया

जब सोफिया से आप मिलेंगे, तो वह इंसानों की तरह आंखें झपकाती और बातें करती आपको दिखाई देगी. सोफिया 62 से भी ज्यादा तरह की भावनाएं अपने चेहरे पर ला सकती है. वहीं, सोफिया भौंहे, मुंह और गर्दन की मूवमेंट भी कर सकती है.

सोफिया की आंखों में कैमरे लगे हुए हैं, जिनकी मदद से वह लोगों से आँखें मिला पाती है और उन्हें पहचान पाती है. इसका सॉफ्टवेयर इस तरह से प्रोग्राम किया गया है कि वह पहले से निर्धारित विषयों और रोज़मर्रा के विषयों पर बातचीत कर सकती है. अपनी इसी खूबी के कारण ही सोफिया लांच होने के कुछ समय बाद ही चर्चा का विषय बन गई.

सोफिया ने कई सारे इंटरव्यू दिए हैं. अपने एक इंटरव्यू में उनसे मनुष्यों को खत्म करने की बात भी कही थी.

हालांकि यह बात मज़ाकिया तौर पर थी!

सोफिया एनबीसी चैनल के मशहूर शो ‘दा टुनाइट शो स्टारिंग जिम्मी फैलन’ में भी अपनी झलकियाँ दिखला चुकी है. जहां, सोफिया ने शो के होस्ट को जोक सुनाया और रॉक, पेपर एंड सीज़रस् गेम खेलकर लोगों को चौंका दिया.

वहीं, सोफिया पिछले साल स्विट्ज़रलैंड में हुए यूएन द्वारा आयोजित कॉन्फ्रेंस में भी शामिल हुई थी. वहां उसने आम ज़िंदगी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर खुलकर अपने विचार रखे. सोफिया ने एक इंटरव्यू में मानवता के लिए काम करनी की इच्छा जताई थी. साथ ही, इंसानों के साथ मिलकर रहने और काम करने की बात कही.

इसके अलावा, सोफिया ने एक म्यूजिक कॉन्सर्ट में गाना गाया है और एली मैगजीन के ब्राज़ील एडिशन के कवर पर भी रहीं.

Robot Sophia At The Tonight Show Starring Jimmy Fallon (Pic : inverse)

सउदी अरब ने दी ‘नागरिकता’

सोफ़िया पहली ह्यूमनॉइड रोबोट बन गई है जिसे किसी देश ने अपनी नागरिकता तक दी है. सऊदी अरब ने रियाद में हुए फ्यूचर इन्वेस्टमेंट समिट में इस रोबोट को अपने देश की नागरिकता प्रदान की. नागरिकता पाने के बाद सोफिया ने स्टेज पर सभी को धन्यवाद करते हुए कहा कि– ‘इस अनूठी विशिष्टता के लिए मैं बहुत सम्मानित और गर्व महसूस करती हूं’.

एक सऊदी कमिटी ने ट्विटर के जरिए इस बात की घोषणा की थी. हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि एक रोबोट के तौर पर सोफिया के अधिकार क्या होंगे.

सऊदी अरब ने जब 25 अक्टूबर को रोबोट सोफिया को नागरिकता दी थी तो कई लोगों ने इसकी आलोचना भी की. सऊदी अरब की गिनती ऐसे देशों में भी होती है जहां महिलाओं को कम अधिकार हासिल हैं. ऐसे में लोगों ने रोबोट की जगह महिलाओं को हक देने की बात कही थी.

Robot Sophia In Saudi Arabia (Pic: youtube)

सोफिया की भारत-यात्रा

मुंबई में एशिया का सबसे बड़ा टेक फेस्ट-2017 आयोजित किया गया था. इस कार्यक्रम का दूसरे दिन सभी के लिए बेहद खास रहा, क्योंकि टेलीफेस्ट में सोफिया आई थी. सोफिया ने इस कार्यक्रम में भारतीय अंदाज को अपनाकर भारतीय वेशभूषा में शिरकत की. सोफिया ने सफेद और संतरी रंग की साड़ी पहन भारत को संबोधित किया.

सोफिया ने ‘नमस्ते इंडिया, मैं सोफिया’… कहकर वहां मौजूद लोगों का अभिवादन किया. लोगों ने भी सोफिया का स्वागत तालियों की गड़गड़ाहट के साथ किया. तीन हजार लोगों में इस बात को लेकर उत्सुकता थी कि आखिर सोफिया किस तरह बात करती है और सवालों के जवाब कैसे देती है. सोफिया ने सभी सवालों के जवाब बड़ी ही चतुराई और प्रभावी तरीके से दिए. सोफिया ने वहां मौजूद लोगों से हिंदी में भी बात की, जो बेहद चौंकाने वाला था.

Robot Sophia First Visit To India (Pic: ibtimes)

यकीनन ही सोफिया जैसे और भी रोबोट हैं जो आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस पर काम करते हैं मगर वह सोफिया जितने अचूक जवाब नहीं दे पाते हैं. इस समय सोफिया को थोड़ी बहुत टक्कर चीन की रोबोट जिया-जिया ही दे सकती है क्योंकि वह भी सोफिया की तरह काम करने वाली रोबोट ही है.

खैर, अब आने वाले समय में ही यह देखने को मिलेगा कि रोबोट इंसानों के लिए कितने उपयोगी साबित होते हैं.

इस बारे में आपकी क्या राय है, हमें कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं.

Web Title: Humanoid Robot Sophia Who talks and behave like humans, Hindi Article

Featured Image Credit: un