विनोद खन्ना का यूं चले जाना, उनके प्रशंसकों सहित अनगिनत सिनेमा प्रेमियों को भीतर तक चोट पहुंचा गया है. खबरों के मुताबिक एक लंबी बीमारी से जूझते हुए उन्होंने मुंबई के एक अस्पताल में आख़िरी सांसें ली. 70 साल के सफ़र में विनोद खन्ना ने 140 से भी ज़्यादा फ़िल्मों में अपने अभिनय से दर्शकों को लुभाया. चूंकि आदमी चला जाता है, किन्तु उसके कर्म संसार में रह जाते हैं, तो आईये नज़र डालते हैं उनकी कुछ शानदार फिल्मों पर, जिसने आम-ओ-ख़ास का भरपूर मनोरंजन किया:

‘दयावान’

1988 में फिरोज खान द्वारा निर्देशित इस फिल्म में जब विनोद खन्ना माधुरी दीक्षित के साथ देखे गये, तो सिनेमाघरों में कोई भी सीटियां बजाने से खुद को नहीं रोक सका. फिल्म में माधुरी के बीच स्क्रीन पर किया गया ‘किस’ सीन सुर्खियों में रहा. ‘आज फिर तुम पर प्यार अाया है’ इस फिल्म का ही गाना था, जिसके लोग आज भी दीवाने हैं.

Vinod Khanna in Dayavan (Pic: Goldmine/ youtube)

‘अमर अकबर एंथनी’

1977 में आई इस फिल्म ने पर्दे पर खूब धमाल मचाया. कहा जाता है कि यह विनोद खन्ना की एक ऐसी फिल्म थी, जिसमें उन्होंने अभिनय के एक नये पायदान पर अपना पैर रखा था. यह फिल्म एक्शन, कॉमेडी और रोमांस का एक संगम थी. इस फिल्म में विनोद खन्ना के साथ अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर भी थे.

‘कुर्बानी’

1980 में फिरोज खान के निर्देशन में आई यह एक एक्शन फिल्म थी. माना जाता है कि यह फिल्म मोटी कमाई के मामले में एक बड़ी हिट थी. इस फिल्म में विनोद खन्ना के अलावा, ज़ीनत अमान, अमज़द ख़ान, कादर ख़ान, अरुणा ईरानी, अमरीश पुरी जैसे कई बड़े नाम थे. फिल्म में विनोद खन्ना के अभिनय को खूब सराहा गया. वह अपने दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रहे.

‘सत्यमेव-जयते’

1987 आई इस फिल्म में विनोद खन्ना एक ईमानदार पुलिस ऑफिसर की भूमिका में दिखे. वह पूरी फिल्म में भ्रष्ट राजनीतिक व्यवस्था से लोहा लेते रहे. कई सारी मुसीबतों के बाद भी उन्होंने अपने घुटने नहीं टेके. इस फिल्म के गाने भी दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रहे और फिल्म हिट रही.

‘हेराफेरी’

यह फिल्म 1976 में पर्दे पर आई. इसका निर्देशन प्रकाश मेहरा ने किया था. यह फिल्म दो दोस्तो की कहानी पर आधारित थी. इस फिल्म के लिए विनोद खन्ना को फिल्मफेयर बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर के लिए चुना गया था. फिल्म में उनके साथ अमिताभ बच्चन भी थे. इसके गानों को भी लोगों ने खूब पंसद किया था.

‘मेरा गांव मेरा देश’

1971 में राज घोषला इस फिल्म को लेकर आये थे. यह विनोद खन्ना के करियर के शुरुआती वर्षों की मूवी थी. इस में उन्होंने एक डाकू का रोल किया था. इस मूवी में उनके रोल को देखकर लोग उनकी एक्टिंग के मुरीद हो गए. इस फिल्म का गाना ‘आया आया अटरिया पे कोई चोर‘ खूब सुर्खियों में रहा.

Vinod Khanna In Mera Desh Mera Gaon Film (Pic: rediff.com)

‘मुकद्दर का सिकंदर’

1978 के आसपास आई इस फिल्म को प्रकाश मेहरा ने निर्देशित किया था. इस फिल्म में विनोद खन्ना के साथ अमिताभ बच्चन, राखी, रेखा और अमजद खान शामिल थे. यह फिल्म अपने समय की एक सुपरहिट फिल्म थी. कहा जाता है कि इस फिल्म की सफलता ने विनोद खन्ना को एक मेगा स्टार के रूप में स्थापित किया.

‘मेरे अपने’

1971 में यह फिल्म गुलजार जी के निर्देशन में बनी थी. इस फिल्म में विनोद खन्ना को मीना कुमारी के साथ काम करने का मौका मिला था. यह फिल्म विनोद खन्ना की सबसे सफल फिल्मों में से एक मानी जाती है. इस फिल्म को विनोद खन्ना के करियर की क्लासिक फिल्म भी कहा जाता है. यह फिल्म नेशनल अवार्ड विजेता बंगाली मूवी अपनजन का रीमेक कही गई.

‘अचानक’

विनोद खन्ना ने गुलजार निर्देशित इस मूवी में एक सैनिक का रोल अदा किया था. फिल्म में वह अपने सबसे अच्छे दोस्त और अपनी पत्नी की बेवफाई से टूट जाते हैं. इसके बाद वह दोनों को जान से मारकर इसका बदला लेते हैं. विनोद खन्ना की यह फिल्म भी हिट रही थी.

‘परवरिश’

1977 में इस फिल्म को मनमोहन देसाई लेकर आये थे, जिसमें विनोद खन्ना और अमिताभ की जोड़ी ने धूम मचा दी थी. इसके बाद से तो दोनों को सगा भाई कहा जाने लगा. इन्होंने लगातार कई हिट फिल्मों में काम किया. इस मूवी में भी उनके अभिनय के लिए उनकी काफी तारीफ की गई थी.

‘इम्तिहान’

1974 में ‘इम्तिहान’ विनोद खन्ना की एक और सुपरहिट फिल्म बनकर आई. यह फिल्म ब्रिटिश फिल्म टू सर, विद लव से प्रभावित मानी गई. इसमें विनोद खन्ना ने एक लेक्चरर की भूमिका निभाई थी, जिसके लिए उनकी खूब तारीफ हुई थी.

Vinod Khanna in Imtihan Film(Pic: rediff.com)

‘चांदनी’

1989 में यश चोपड़ा के निर्देशन में बनी यह फिल्म चांदनी नामक किरदार पर आधारित थी. एक किस्म की यह एक ड्रामा फिल्म थी. इसमें पहले चांदनी के मंगेतर एक दुर्घटना में बिछड़ जाते हैं और उनको मरा हुआ मान लिया जाता है. पर जब चांदनी को किसी और से प्यार हो जाता है, तो उसका मंगेतर वापस आ जाता है. इस फिल्म में विनोद खन्ना के अभिनय के अलावा ऋषि कपूर भी थे. इसी फिल्म का मेरे हाथों में नौ-नौ चूड़ियां हैं नामक गाना खूब चला.

‘जुर्म’

1990 में आई इस फिल्म को मुकेश भट्ट ने निर्देशित किया था. इस फिल्म में एक अख़बार के संपादक रितेश के पास कई प्रभावशाली लोगों के खिलाफ कुछ सबूत होते हैं, जिस कारण उनकी जान को खतरा होता है. उन्हें पुलिस सुरक्षा प्रदान की जाती है, लेकिन सुरक्षा के बावजूद उनकी हत्या कर दी जाती है. इस फिल्म में विनोद खन्ना ने मुख्य भूमिका निभाई थी.

‘दबंग’

इस फिल्म में विनोद खन्ना ने सलमान खान के पिता की भूमिका निभाई थी. दबंग में सलमान खान के साथ उनके संबंध ना तो अच्छे रहते हैं और ना ही नफरत भरे रहते हैं. उनकी वजह से इस फिल्म को सालों तक याद रखा जाएगा. विनोद खन्ना दबंग-2 में भी नजर आए थे.

चलते-चलते…

  • विनोद खन्ना ने अभिनय की शुरुआत 1968 में फिल्म ‘मन का मीत’ से की थी.
  • शुरुआती दिनों में विनोद खन्ना ने सहायक अभिनेता और खलनायक के किरदारों में काम किया था.
  • करियर के अच्छे दौर में विनोद खन्ना अचानक आध्यात्मिक गुरु रजनीश के शिष्य हो गए थे.
  • हालांकि, 1987 में आई फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ में वह एक बार फिर से रुपहले पर्दे पर नज़र आये थे.
  • अंतिम बार विनोद खन्ना साल 2015 में शाहरुख खान की फिल्म ‘दिलवाले’ में दिखे थे.
  • 1997 में विनोद खन्ना ने भाजपा की सदस्यता ली और पंजाब की गुरदासपुर सीट से चार बार सांसद रहे.
  • उन्होंने 1998, 1999, 2004 और 2014 का लोकसभा चुनाव जीता मगर 2009 का चुनाव वो हार गए थे.
  • अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में उन्होंने पर्यटन और संस्कृति मंत्री के तौर पर काम किया.
  • विनोद खन्ना को भाजपा सरकार में विदेश राज्य मंत्री की जिम्मेदारी भी दी गई थी.

Vinod Khanna Passes Away In Mumbai (Pic: expressnewzpk.com)

विनोद खन्ना ने भले अपनी आंखें हमेशा के लिए बंद कर ली हो, लेकिन उनकी फिल्में मनोरंजन के साथ-साथ सामाजिक सन्देश देने के लिए हमेशा ही याद की जाती रहेंगी. भारतीय फिल्म जगत के लिए उनके व्यक्तिगत प्रयासों को हमेशा सम्मान मिलता रहेगा, इस बात में दो राय नहीं है.

Web Title: Actor Vinod Khanna Passes Away In Mumbai, Hindi Article

Keywords: Vinod Khanna Dead, Vinod Khanna Death, Vinod Khanna No More, Vinod khanna Pic, Vinod Khanna Dies, Film Industry, Entertainment, Condolence, Bollywood, Hollywood, Hindi Movies, Hit Movies of Vinod Khanna, Amar Akbar Anthony, Muqaddar Ka Sikandar, Dayavan, Qurbani, Great People, Actor, Hindi Articles

Featured image credit / Facebook open graph: frostsnow.com