कहते हैं हंसने से आत्मा खिल उठती है. जापान में तो लोग अपने बच्चों को बचपन से ही हंसते रहने की शिक्षा देते हैं. शेक्सपियर जैसे विचारक ने भी इस बात की पुष्टि किया है कि जो व्यक्ति जितना हंसता-खेलता है, उसकी उम्र उतनी ही ज्यादा होती है. अब चूंकि हर वर्ष मई महीने के पहले रविवार को विश्व हास्य दिवस विश्व भर में मनाया जाता है, और पिछले कुछ सालों से भारत की राजनीति भी हास्य का विषय रही है. इसलिए हम लेकर आये हैं, राजनीतिक जोक्स की एक ऐसी बानगी, जो आपको पल भर के लिए ही सही पर हंसने पर मजबूर जरुर कर देगी.

2014 लोकसभा चुनाव में मोदी जी ने अच्छे दिनों का नारा दिया सरकार बनाने में कामयाब रहे और इसके बाद जब कुछ लोग सरकार से खुश नहीं हुए तो उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा-

भाइयों और बहनों

अच्छे दिन तो आ गए हैं, लेकिन…..

कोहरे की वजह से दिख नहीं रहे हैं. 🙂 😛

आपको याद होगा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के पहले केजरीवाल जी ने अपने घोषणा पत्र में फ्री वाईफाई देने की बात कही थी. पर सरकार बनने के बाद जब युवाओं को इसका लाभ न मिला तो उन्होंने कुछ इस तरह से अपनी प्रतिक्रिया दी..

अब यह किसने अफवाह फैलाई है

कि…

झाडू के पास मोबाइल ले जाने से थोड़ा-बहुत वाई-फाई पकड़ रहा है. 😛 🙂

लोग यही नहीं रुके और कुछ और उदाहरण पेश किए-

मोदी जी केजरीवाल से: वाई-फाई कब से चालू होगा?…

केजरीवाल: बस ‘अच्छे दिन’ आते ही…

Top Jokes on Politics (Pic: graphicsheat)

हाल ही में देश में नोटबंदी को लेकर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं सुनने को मिली. इसी में एक प्रतिक्रिया ऐसी भी आई…

रिपोर्टर लाइन में लगे आदमी से: आपको बहुत तकलीफ हो रही है,

क्या बैंक की तरफ से कुछ सुविधा मिल रही है आपको ??

आदमी: जी बैंक वाले ध्यान रख रहे हैं कि लोग लाइन में बोर न हों,

परसों राहुल गांधी जी को बुलाया था,

कल केजरी आया था!..

आज देखो क्या मनोरंजन का इंतज़ाम करते हैं. 🙂 🙂

हाल में फ्रांस के राष्ट्रपति जब भारत के दौरे पर आए तो लोगों ने इस मौके को भी नहीं छोड़ा और क्या लिखा, पढ़िए…

फ़्रांस के राष्ट्रपति ओलांद ने गणतंत्र दिवस परेड के दौरान मोदी जी से पूछा :

इनमें दिल्ली की झांकी कहां है…??

मोदी जी ने केजरीवाल की तरफ इशारा किया और बोले….

वो बैठी है (मफलर बांधे)… 😛

राजनीतिक गलियारों में अमित शाह और नरेन्द्र मोदी की जोड़ी को परफेक्ट बताया जाता है. पढ़िए इसका एक नमूना..

मोदी – हे पार्थ, बाण चलाओ!

अमित शाह- परन्तु किस पर चलायें प्रभु?

मोदी – पार्थ…तुम सिर्फ बाण चलाओ…

केजरीवाल खुद उछल के बीच में आ जाएगा

यूपी इलेक्शन के पहले जिस तरह से मुलायम सिंह के परिवार में खींच-तान चलती रही और अंतत: समाजवादी पार्टी की उत्तर प्रदेश में अपने मुंह की खानी पड़ी, तो लोगों ने मुंह से कुछ ऐसा निकला…

अगर आप अपने पिता जी की नहीं सुन रहे हैं,

तो आप अखिलेश हैं

अगर आप अपने माता जी की नहीं सुन रहे हैं,

तो आप राहुल हैं

अगर आप किसी की भी नहीं सुन रहे हैं,

तो आप नरेंद्र मोदी हैं

अगर आपकी कोई नहीं सुन रहा है,

तो आप केजरीवाल हैं! 🙂 ही ही ही 🙂

उत्तर प्रदेश में बीजेपी की जीत के बाद योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने और उन्होंने जब तेजी से काम करना शुरु किया तो लोगों ने कहा…

कोई योगी जी को बताओ कि…

उन्हें पांच साल के लिए मुख्यमंत्री बनाया गया है,

अनिल कपूर की तरह 24 घंटे के लिए नहीं

इतने तेज फैसले कौन लेता है यार… 🙁 😛

जिस तरह से आये दिन सीमा पार से होने वाली गोलाबारी के कारण कश्मीर के हालत नाजुक होते जा रहे हैं. उस पर राहुल गांधी का क्या जवाब हो सकता है, किसी ने इस तरह से कल्पना किया है…

पत्रकार: कश्मीर के हालात बहुत खराब हैं,

सीमा पर गोलीबारी हो रही है

आपका क्या कहना है ?

राहुल गांधी: सीमा को कुछ दिन घर पर रहना चाहिए… हा हा हा 🙂 🙂

आये दिन आतंकवादियों को पकड़ने की बात सरकार कहती रहती है, इसी कड़ी में किसी युवा ने अपनी क्रियेटिविटी दिखाते हुए लिखा-

अगर मोदी बस एक बार ऐलान कर दें.

कि, जो भी आतंकवादी को पकड़ के लाएगा…

उसे सरकारी नौकरी दी जायेगी..

कसम से 24 घंटे भी नहीं लगेंगे,

देश के लड़के पूरा पकिस्तान उठा लाएंगे..

चुनावों में ईवीएम के प्रयोग को लेकर खूब हो-हल्ला हुआ. यहां तक कि चुनाव आयोग को बीच में आकर सफाई देनी पड़ी. ऐसे में ईवीएम क्या बात करती होगी, किसी ने सोच लिया और लिखा-

पहली ईवीएम: लगता है हमारी फिर से शामत आने वाली है.

दूसरी ईवीएम: ऐसा क्यों बोल रही हो बहन?

पहली ईवीएम: दिल्ली एमसीडी चुनावों में केजरीवाल की पार्टी की हार के पूरे आसार दिख रहे है. इसलिए ऐसा कह रही हूं… 🙂

कुछ और भी…

अरे केजरीवाल जी, इतनी गर्मी में रज़ाई ओढ़ के क्यों सोये हैं?

पंखा का स्विच ऑन क्यों नहीं कर रहे?

केजरीवाल जी: कोई भी बटन दबाओ वोट बीजेपी को जा रहा है

इसलिए पंखा का बटन नहीं दबाया..

हा हा हा 🙂 😛

जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती जा रही है, लोग एक से बढ़कर एक प्रतिक्रियाएं देते जा रहे हैं. इसी बीच केजरीवाल जी पर चर्चित पुराना चुटकुला भी ट्रेंड पकड़ रहा है. यह कुछ ऐसा है:

डीयर सूरज देवता आप काहे दिल पर ले गये?

डिग्री तो मोदी जी को बोला था दिखाने को…

आपको नहीं!

हमें आपकी डिग्री पर कतई सन्देह नहीं है!

चलते-चलते…

  • विश्व हास्य दिवस मई महीने के पहले रविवार को मनाया जाता है.
  • इसका सबसे पहला आयोजन 11 जनवरी, 1998 को मुंबई में किया गया था.
  • इस दिवस की स्थापना का श्रेय डॉ मदन कटारिया को जाता है.
  • इस दिवस का आरंभ विश्व में शांति की स्थापना भाईचारे और सद्भाव के लिए किया गया था.
  • आज पूरे विश्व में छह हजार से भी अधिक हास्य क्लब हैं.
  • इस मौके पर विश्व के बहुत से शहरों में रैलियां, गोष्ठियां एवं सम्मेलनों का चलन है.

Top Jokes on Politics, Tongue Smileys (Pic: free smiley)

यह राजनीति पर बने जोक्स की एक बानगी भर है. ऐसे न जाने कितने और जोक्स हैं, जिन्हें हर रोज आप अपने वाट्सऐप, फेसबुक और ट्वीटर पर पढ़ते रहते हैं. आपको यह पेशकश कैसी लगी नीचे दिये कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं. एक बात और अगर आपके पास भी ऐसा कोई जोक हो तो उसे भी नीचे लिखें, ताकि आपके साथ हमें भी कुछ और पल मुस्कुराने का मौका मिल सके.

Web Title: Top Jokes on Politics, Hindi Article

Keywords: World Laughter Day, Celebrate World Day, Happy Laughter Day, Fun, laughter Day Quotes, Poletical Funny Quotes, Jokes, Funny Jokes, Jokes on Arvind Kejriwal, Jokes on Narendra Modi, Jokes on Rahul Gandhi, Politician, India

Featured image credit / Facebook open graph: fancygreetings.com